लखनऊ/ शुक्रवार, २१ जनवरी/ UP चुनाव में कांग्रेस का चेहरा कौन? प्रियंका गांधी बोलीं- मेरा सिवा और कोई दिख रहा क्या?

लखनऊ: कांग्रेस की यूपी प्रभारी और पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा प्रदेश में मुख्यमंत्री पद की दावेदार हैं! संकेतों में यह स्वयं प्रियंका ने बता दिया है। शुक्रवार को पार्टी की ओर से यूपी चुनाव के लिए घोषणापत्र जारी किया गया। जब पत्रकारों ने उनसे सवाल किया कि यूपी चुनाव में कांग्रेस पार्टी का चेहरा कौन है? पत्रकार ने पूछा कि क्या यूपी में भी पंजाब की तरह कलेक्टिव लीडरशिप के तहत चुनाव लड़ा जाएगा? इस सवाल के जवाब में प्रियंका ने सवाल किया, और कोई दिख रहा है क्या? चारों तरफ तो एक ही चेहरा दिख रहा है, फिर इस प्रकार का सवाल कहां उठाता है। इसके साथ ही प्रियंका ने प्रदेश में सीएम पद के चेहरे से पर्दा उठा दिया है। कांग्रेस सरकार बनने की स्थिति में प्रदेश में रोजगार पर सबसे अधिक ध्यान देने की बात उनकी ओर से कही गई है। कार्यक्रम में कांग्रेस सांसद और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी मौजूद थे। प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश की स्थिति की बात की। उन्होंने सीधे-सीधे योगी सरकार को निशाने पर लिया। प्रदेश में रोजगार की स्थिति पर चर्चा की। युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए आयोजित होने वाली परीक्षाओं में गड़बड़ियों की चर्चा की। प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक से लेकर अन्य तमाम धांधली को रोकने और युवाओं के लिए एक बेहतर भविष्य के निर्माण पर जोर दिया। इस पूरे कार्यक्रम के दौरान प्रियंका सबसे प्रमुख किरदार में रहीं। इस दौरान जब पत्रकारों ने उनसे सवाल किया कि यूपी चुनाव में कांग्रेस पार्टी का चेहरा कौन है? इस सवाल के जवाब में प्रियंका ने सवाल किया, और कोई दिख रहा है क्या? पंजाब की तर्ज पर वहां भी समेकित नेतृत्व में चुनाव लड़ा जा रहा है। इस पर प्रियंका का जवाब था कि क्या यूपी में कोई और चेहरा दिख रहा है? दरअसल, पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू और सीएम चरणजीत सिंह चन्नी दोनों ही मुख्यमंत्री के दावेदार हैं, ऐसे में प्रियंका का यह बयान काफी महत्वपूर्ण हो जाता है। विधानसभा चुनाव लड़ने के संकेत नहीं प्रियंका गांधी ने इस मौके पर भी विधानसभा चुनाव में उतरने के कोई संकेत नहीं दिए। प्रियंका ने कहा कि मैंने चुनाव लड़ना तय नहीं किया है। हालांकि उन्होंने माना कि वह खुद उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का चेहरा हैं। कांग्रेस के दूसरा मेनिफेस्टो जारी किए जाने के मौके पर जब प्रियंका से पूछा गया कि कांग्रेस का सीएम कौन होगा? इस पर प्रियंका ने कहा कि आपको कोई और चेहरा दिखता है? इसको लेकर अब प्रदेश की राजनीति में हलचल तेज होनी तय है। अब तक प्रियंका ने संकेतों में भी इस प्रकार की बात नहीं कही थी। ऐसे में साफ हो गया कि वे खुद को भाजपा के सीएम फेस योगी आदित्यनाथ, सपा के अखिलेश यादव, बसपा की मायावती के समकक्ष खुद को ला चुकी हैं। 8 लाख महिलाओं के लिए नौकरी आरक्षित प्रियंका ने मैनिफेस्टो जारी करते हुए कहा कि युवाओं से बात करके ही ये भर्ती विधान बना है। हम यूपी में हम 20 लाख नौकरियां देंगे। इसमें 8 लाख महिलाओं के लिए रिजर्व किया जाएगा। हमने विधान में ये भी बताया है कि ये कैसे करेंगे। 12 लाख पद तो अभी भी खाली है। हम जॉब कैलेंडर बनाएंगे और इसका कड़ाई से पालन कराएंगे। भर्ती परीक्षाओं के लिए फीस नहीं लगेगी। परीक्षा देने के लिए ट्रेन और बस यात्रा भी मुफ्त होगी। प्रियंका गांधी ने कहा कि युवा इस बात से परेशान हैं कि परीक्षाएं लीक हो रही है। हमारी सरकार आएगी तो हम वादे पूरे करेंगे। हम सकारात्मक प्रचार कर रहे हैं। हम चाहते हैं कि विकास की बात हो। युवाओं के भविष्य की बात हो। भर्ती विधान को प्रियंका गांधी ने प्रदेश के 7 करोड़ युवाओं की आकांक्षाओं का दस्तावेज बताया।

दिवाली के कपड़ों पे 70% तक की छूट।



लखनऊ की पल पल की ख़बरों के लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें

facebook.com/upkikhabarlive

सम्बंधित खबरें