कानपुर नगर/ बुधवार, २१ जुलाई/ यूपी : हॉलमार्किंग के लिए कानपुर के 482 सराफा कारोबारियों को नोटिस, ये रही पूरी जानकारी

हॉलमार्किंग सिस्टम लागू होने के बाद भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस) ने कानपुर के 482 सराफा कारोबारियों को नोटिस भेजकर 31 जुलाई तक पुराने सिस्टम के हॉलमार्किंग वाले गहनों का ब्योरा मांगा है। पूरे प्रदेश के नोटिस के दायरे में 3809 सराफा कारोबारी आए हैं।

बारिश के छाता पर 45% तक छूट प्राप्त करें।



31 अगस्त तक कारोबारियों को गहनों की छह अंक की यूनिक हॉलमार्किंग आईडी करानी होगी। लखनऊ में गोमतीनगर स्थित कार्यालय के सेक्शन ऑफीसर राजेश कुमार की ओर से जारी नोटिस के अनुसार, कारोबारियों को एक-एक सोने के गहने का विवरण बनाकर देना है।

यानी कारोबारियों को बताना पड़ेगा कि उनके पास चार मुहर की हॉलमार्किंग वाले कितने-कितने गहने हैं। इस संबंध में लखनऊ सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष रवींद्र नाथ रस्तोगी ने कहा कि प्रोफार्मा में पुराने हॉलमार्किंग वाले गहने की घोषणा करनी है।

असमंजस मेें कारोबारी
लखनऊ सराफा एसोसिएशन के प्रवक्ता डॉ. राजकुमार वर्मा ने कहा कि देश का सराफा कारोबारी 31 अगस्त तक पुराने स्टॉक के माल की यूनिक हॉलमार्किंग आईडी (एचयूआईडी) कराने को लेकर असमंजस में हैं। पूरे प्रदेश सिर्फ 62 हॉलमार्किंग सेंटर होने के कारण पुराने गहने की शत प्रतिशत हॉलमार्किंग संभव नहीं है। केंद्र की अधिसूचना में स्पष्ट नहीं है कि 31 अगस्त तक पुराने गहने की हॉलमार्किंग नहीं होने पर आगे क्या होगा। जांच के नाम पर होगा उत्पीड़न
ऑल इंडिया ज्वैलर्स एवं गोल्डस्मिथ फेडरेशन के राष्ट्रीय सचिव राजीव रस्तोगी का आरोप है कि 31 जुलाई के बाद जांच के नाम उत्पीड़न न हो, इसके लिए कारोबारी सब काम छोड़कर नोटिस का जवाब देने में जुटे हैं। बीआईएस के नोटिस से कारोबारियों में आक्रोश है।

फैक्ट
कानपुर में बीआईएस में पंजीकृत कारोबारी    482
कुल हालमार्किंग सेंटर                      04
एक सेंटर पर गहनों की रोज हॉलमार्किंग     300
31 अगस्त तक गहनों की होगी हॉलमार्किंग 45000 

कानपुर नगर की पल पल की ख़बरों के लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें

facebook.com/upkikhabarlive

सम्बंधित खबरें