प्रयागराज/ बुधवार, २१ जुलाई/ प्रयागराज : दादी और दो पोतों की सड़क हादसे में मौत से मचा कोहराम, वाराणसी में हुआ हादसा

झूंसी के अंदावा गांव के रहने वाले तीन लोगों की वाराणसी के राजातालाब में सड़क हादसे में मौत होने के बाद शव गांव में पहुंचे तो हाहाकार मच गया। मरने वाले तीनों लीलावती, उनका पोता चंदन पटेल और गांव का ही युवक अजीत सिंह के शवों से लिपटकर परिजन रोने लगे। हादसे में लीलावती का बेटा शैलेश पटेल गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे वाराणसी में ही भर्ती कराया गया है। देर शाम दारागंज स्थित विद्युत शवदाहगृह में तीनों का अंतिम संस्कार किया गया। घटना से इलाके में मातम का माहौल रहा। तमाम घरों में चूल्हेे तक नहीं जले। 

बारिश के छाता पर 45% तक छूट प्राप्त करें।



सरायइनायत थाना क्षेत्र के अंदावा गांव निवासी 38 वर्षीय शैलेश सिंह पटेल और उनकी मां लीलावती (72) को बुधवार को सीवान जाने के लिए जंक्शन से ट्रेन पकड़नी थी। गांव के ही अजीत सिंह की कार वे जंक्शन पहुंचे। साथ में शैलेश का भतीजा चंदन भी था। वहां देखा गया कि ट्रेन छूट गई। इसके बाद सभी ने तेजी से कार भदोही की तरफ बढ़ा दी। सोचा कि आगे किसी स्टेशन से ट्रेन पकड़ लेंगे। हालांकि भदोही में ट्रेन को नहीं पकड़ पाए तो वाराणसी की तरफ बढ़ गए। वाराणसी के राजातालाब के वीरभानपुर कार का टायर फट गया।

अनियंत्रित ट्रेलर की टक्कर से लीलावती, अजीत सिंह और चंदन की मौके पर ही मौत हो गई। शैलेश को वाराणसी में भर्ती कराया गया। हादसे में गांव के तीन लोगों की मौत की जानकारी उनके घर पहुंची तो कोहराम मच गया। परिजन दहाड़े मारकर रोने-बिलखने लगे। पोस्टमार्टम के बाद तीनों का शव शाम को अंदावा गांव पहुंचा तो परिजन शवों से लिपट गए। चंदन की मां और पिता बेसुध पड़े रहे। अजीत के परिजनों का भी रो-रोकर बुरा हाल था। गांव की बस्ती के घरों में चूल्हे तक नहीं जले। शाम को तीनों के शवों का अंतिम संस्कार दारागंज के विद्युत शवदाह गृह में किया गया। इस दौरान भारी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।

प्रयागराज की पल पल की ख़बरों के लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें

facebook.com/upkikhabarlive

सम्बंधित खबरें