आगरा/ बुधवार, २१ जुलाई/ दिल्ली के जामा मस्जिद से लखनऊ के ऐशबाग तक...कोरोना के बीच बदली-बदली सी बकरीद, देखें

पूरे देशभर में आज यानी मंगलवार, 21 जुलाई 2021 को बकरीद (Eid al-adha 2021) का त्योहार मनाया जा रहा है। कोरोनावायरस के कारण लोगों ने पिछली बार की तरह ही इस बार भी बकरीद का त्योहार अपने घर में सादगी के साथ मनाने का फैसला किया। मस्जिदों में गाइडलाइंस के मुताबिक ही भीड़ देखने को मिली। हालांकि कई मस्जिदों पर भीड़ भी नजर आई। ईद-उल-अजहा (बकरीद) की पूर्व संध्या पर बाजारों में रौनक रही। इसकी तैयारियों को लेकर मुस्लिम समाज के लोग खूब निकले। जिसमें कुर्बानी के सामान की खरीदारी की। मुस्लिम समुदाय के लोगों ने कर्बानी के लिए बकरे, भेड़ की खरीदारी की। वहीं, खजला, सिवईयां, खजूर, ड्रॉई फ्रूट्सकी लोगों ने जमकर खरीदारी की। समुदाय के लोगों ने नए कपड़े भी खरीदे। हालांकि कोरोना की गाइडलाइन के पालन में पहले जैसी भीड़ नहीं रही। कानून-व्यवस्था को लेकर खास इंतजाम पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। असामाजिक तत्व धार्मिक व जातीय उन्माद न फैला सकें, इसके लिए सावधानी बरतने के आदेश दिए गए हैं। थाना इंचार्ज अपने-अपने इलाके में पड़ने वाली मस्जिद के मौलवी एवं इमामों से संपर्क में हैं। एडीजी लॉ ऐंड ऑर्डर ने कहा है कि राज्य में कानून एवं शांति व्यवस्था को किसी भी सूरत में बिगड़ने नहीं दिया जाएगा। बकरों पर पड़ा पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों का असर लॉकडाउन में आम लोगों की आदमनी घटी है जबकि महंगाई, खास कर पेट्रोल-डीज़ल की बढ़ती कीमतों के कारण दूर-दराज़ के इलाकों से बकरों की ट्रांसपोर्ट लगात में इजाफा हुआ है, और बकरा पिछले साल की तुलना में करीब 50 फीसदी तक मंहगा हो गया है। अधिकांश लोगों ने मंहगाई के कारण बकरे नहीं खरीदे। एक दूसरे को दी खूब बधाई हैदराबाद में भी मुसलमानों ने बकरीद मनाई। इस दौरान कई बच्चे, बड़े और बुजुर्ग गोलकुंडा ईदगाह पर एकत्र हुए और एक-दूसरे को बधाई दी। दिल्ली की जामा मस्जिद के बाहर सन्नाटा कोविड महामारी प्रतिबंधों के कारण, जामा मस्जिद दिल्ली के अंदर केवल मस्जिद के कर्मचारियों को ईद-उल-अधा के अवसर पर नमाज़ अदा करने की अनुमति थी। अनुमति न होने के कारण मस्जिद में सन्नाटा नजर आया। यूपी में मुस्तैदी से तैनात यूपी पुलिस बकरीद के मौके पर पुलिस अधीक्षकों समेत सभी जिला पुलिस प्रभारी अपने जिलों में मौजूद रहने को कहा गया है। किसी भी स्थिति में वह अपना जिला नहीं छोड़ेंगे। विषय परिस्थितियों में अगर एसपी को जिला छोड़ना पड़े, तो संबंधित रेंज के डीआईजी उस जिले में मौजूद रहेंगे। बकरीद के मद्देनजर एडीजी (लॉ ऐंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार ने ये निर्देश जारी किए हैं। साथ ही उन्होंने कोविड प्रोटोकॉल का पालन सुनिश्चित करने को भी कहा है। मस्जिद के बाहर लीं सेल्फी भी दूसरे देशों के मुसलमान विशाखापत्तनम के चिन्नावालटेर में मुहम्मद मस्जिद में ईद-उल-अजहा पर नमाज अदा करने के बाद एक-दूसरे को बधाई देते हुए और और सेल्फी लेते हुए। आगरा के ताजमहल में हुई नमाज आगरा के ताजमहल में भी नमाज अदा करने के लिए लोग पहुंचे। इस दौरान बच्चों ने एक दूसरे को शुभकामनाएं दीं। मस्जिदों में जाने से पहले हुई थर्मल स्कैनिंग कोरोना गाइडलाइन के तहत ही मस्जिदों में लोगों को प्रवेश दिया गया। इस दौरान मस्जिदों में नमाज अदा करने आने वालों की थर्मल स्कैनिंग भी की गई।

बारिश के छाता पर 45% तक छूट प्राप्त करें।



आगरा की पल पल की ख़बरों के लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें

facebook.com/upkikhabarlive

सम्बंधित खबरें